Brahmacharya™ (ब्रह्मचर्य) Celibacy


Гео и язык канала: Индия, Хинди
Категория: Эзотерика


Brahmacharya ,The Vital Power
ब्रह्मचर्य पालन के लिए इस दुनिया का सर्वश्रेष्ठ और सबसे बड़ा चैनल

#Celibacy
#ब्रह्मचर्य
#meditation
#yoga
#Brahmacharya
#health
#Motivation
#LifeStyle


Гео и язык канала
Индия, Хинди
Категория
Эзотерика
Статистика
Фильтр публикаций


📝तस्वीर तेरी नैनन में तेरी यादें रह गयी मन में♥️✨


प्यारे युवा साथियों

यह पंक्तिया आपके लिये अनजान नही है, हममें से अधिकांश इससे वाकिफ है। जितनी सारगर्भित यह पंक्तियां है उतने ही महत्वपूर्ण इन पंक्तियों को गाने वाले गायक पंकज
उधास भी थे लेकिन आज वह हमारे बीच नही है। आज सिर्फ उनकी तस्वीर हमारी आंखों के सामने है और उनकी यादें हमारे दिल में...

लेकिन क्या यह सच सिर्फ उन्हीं तक सीमित है ? या फिर हम सभी पर समान रूप से लागू होता है। तो इसका उत्तर है हाँ यह हम सभी पर लागू होता है।
क्यूँकि
जीवन के साथ "म्रत्यु ख़ुद ही तोहफे" में मिलती है। और फिर जीवन के पहले दिन से ही उस म्रत्यु तक पहुँचने की यात्रा शुरू हो जाती है। और जीवन से म्रत्यु तक के इस अदभुत सफर के मध्य जितना भी अंतराल है "उसी में हमें ऐसे कर्म करने होते है, जिससे हमारा जीवन मानवता के लिये प्रेरणादायी" हो। तभी यह जीवन हमारे चले जाने के बाद सार्थक कहलाता है। इसीलिये बहुत खूबसूरत लिखा भी गया है:-

जय जयकार नही पद की
जय जयकार नही इस तन की
तन से जो "सत्कर्म" किये है
जय जयकार है उन कर्
मन की...✅


यह विडंबना ही है कि वर्तमान समय में हममें से अधिकांश इस बात को भूलने लगे है कि हमारी भी एक दिन म्रत्यु निश्चित है। और इसी विस्मरण में भोग, विलास, अहंकार और आलस्य में अपना जीवन बर्बाद कर देते है। हमें हमेशा यह ज्ञान होना चाहिये कि संसार में हमेशा वही व्यक्ति याद किया जाता है, जिसके कर्म अच्छे होते है।

साधारण इंसान का तो "मरण" होता है
लेकिन सार्थक इंसान का "स्मरण" होता है...👍

सामान्य इंसान म्रत्यु की बातों से बचने का प्रय
ास करता है, उसे यह नकारात्मक बात लगती है। जबकि म्रत्यु तो सत्य है, इसका  चिंतन करने वाला व्यक्ति अपने भय को जीत कर असाधारण हो जाता है। और यही सन्तो और योद्धाओं की निशानी है, जो अपने अच्छे कर्मों से मरने के बाद भी अमर होकर म्रत्यु पर विजय पाते है। जबकि सामान्य व्यक्ति म्रत्यु से बचने का भरपूर प्रयास करता है लेकिन कभी बचता नही है।

कोई आज गया तो
कोई कल जाएगा
एक दिन हमे भी वहीं जाना है
जी हाँ श्मशान जाना है....☑️


इसीलिये हमें यह समझ
ना बहुत जरूरी है
कि मृत्यु जीवन की "मार्गदर्शक" है जो हमें जीवन के मूल्य को समझने में सहायता करती है। यह हमें "वास्तविकता" का सामना कराती है और हमें हमारे कार्यों की जिम्मेदारी को समझाती है। हम इसे सचेतक की संज्ञा भी दे सकते है, जो हमें सजग करती है और बताती है कि हमारे पास समय ज़्यादा नही है बल्कि एक निश्चित सीमा में है । इस समझ से  हमें अपने जीवन के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं पर ध्यान देने की प्रेरणा मिलती है।

यह हमें जीवन को गहराई से जीने की प्रेरणा भी देती है और हमें प्रत्येक क्षण का महत्व समझाती है। मृत्यु का अनुभव हमें  संवेदनशीलता और सामाजिक जिम्मेदारी की ओर धकेलता है। इसके माध्यम से हमें हमारी सीमाओं को पहचानने में भी मदद मिलती है। जिससे व्यक्ति कभी अहंकारी और घमंडी नही हो पाता, और वह सभी को आदर देते हुए आगे बढ़ता है। 

निष्कर्ष यही है कि मृत्यु भी एक सच्चाई है जिसे आदमी को स्वीकारना ही पड़ता है।


                     धन्यवाद🏵️




✳️so टास्क is:- सदा याद
खे कि

हम सब यहाँ "मुसाफिर" है
किसी मोड़ पर तो बिछड़ना होगा
इसलिये किसी का दिल मत दुखाइये...


यदि यह सीख आपके ह्रदय को स्पर्श करें तो
ओनली 2 शेयर for True वाइब्स...
महान आत्माओं को यही "सच्ची श्रद्धांजलि" है...




                     🌺🌺🌺


Видео недоступно для предпросмотра
Смотреть в Telegram
एकाग्रता /मेमोरी पावर बढ़ाने के लिए 4 मिनट का पावरफुल वीडियो , विजुअल्स के साथ 🌺🧘


मत होना निराश क्यूँकि
तेरे विश्वास को सच होना है...👍


Keep Reading Beautiful Thoughts...👍


➡️दुआ मांगती है रात

शाम के बाद सबको, सुकून देने मैं आती हूं
शैया पर लेटते ही मैं, नयनों में बस जाती हूं

तेरे दिन भर की थकान, मिटाना मेरा काम
कभी ना लेती इसका, किसी से कोई दाम

वात्सल्य के आंचल में, सारी चिंता मिटाऊं
मीठे प्यारे स्वप्नों के, संसार में लेकर जाऊं

फिर भी हूं उपेक्षित, इतना सबकुछ देकर
समझ ना कोई पाता, क्या जाऊंगी लेकर

मुझे खोकर बोलो, दुनिया से क्या पाओगे
स्वास्थ्य रूपी धन, खुद के हाथों गंवाओगे

छोड़ो मोबाइल टीवी, मेरे पास तुम आओ
मेरे आगोश में आकर, दुनिया को भुलाओ

अवज्ञा ना करो तुम, ये बड़े काम की बात
चैन से तुम सो जाओ, दुआ मांगती है रात

ज्वाइन करे : t.me/brahmacharya


जीने का अन्दाज

तुझे याद करके अपनी बेचेनियां दूर कर लेता हूं
इस तरह मैं इनका सस्ता सा इलाज कर लेता हूं

सुकून सा मिलता है तेरा ख्याल आते ही मुझको
सबके लिए खुद को मैं खुशमिजाज कर लेता हूं

पाबन्दियों की अनेक जंजीरों से जकड़ा हूं मगर
तेरा हाथ पकड़कर खुद को आजाद कर लेता हूं

तेरी नसीहतों की वजह से वो मेरे करीब न आते
अपने गमों को मैं इस कदर नाराज कर लेता हूं

तेरी गोद में सर रखकर मिट जाती है मेरी थकान
गर्मजोशी से अगले दिन का आगाज कर लेता हूं

नायाब है तेरा हर सबक बेहतर जिन्दगी के लिये
उनको ही मैं अपने जीने का अन्दाज कर लेता हूं




So keep going...👌


अपनी असीम शक्तियों को जानो...👍


Видео недоступно для предпросмотра
Смотреть в Telegram
👆इस एक काम से गंदी से गंदी आदत छूट जायेगी 🔥


So नेवर Give up...👌


👆Ye video sabhi bhai ben jarur dekhe ✔️


⭐️ब्रह्मचर्य की शुरुआत कैसे करे ?

ब्रह्मचर्य पालन के 100 फायदे

ब्रह्मचर्य पालन के 21 तरीके

Memory कैसे बढ़ाएं ?

तनाव से कैसे दूर रहे ?

सुबह जल्दी कैसे उठे ?

असफल हो रहे हो तो क्या करे ?

ये सब इस एक वीडियो में

इसे 2 बार जरूर देखे । अभी नही तो सेव कर लेवे।

https://youtu.be/dbtH63X6TWg?si=6sVY-r-SAwQ8aR1K


अगर महान लक्ष्य चुन ही लिया है तो फिर उस पथ की बाधाओं से क्या डरना...?


🔰 ब्रह्मचर्य के लिए भोजन के नियम🔰

Golden Food Rules for Brahmacharya
👇👇👇

"रसेन्द्रियों【 tongue】 को जीते बिना जननेन्द्रियों को जितना असंभव है।"

1. प्याज़ (onion) लहसून (garlic) को तुरंत छोड़ देवे। ये ब्रह्मचारी के लिए विष के समान है ।

2.मासाहार का भी त्याग कर देवे। मासाहार के साथ ब्रह्मचर्य की कल्पना भी नही की जा सकती।

3. दूध और फल ब्रह्मचर्य के सबसे श्रेष्ठ भोजन है ।

4.लाल मिर्च का सम्पूर्ण त्याग कर देवे , जरूरत हो तो थोड़ी हरी मिर्च ले लेवे , धीरे धीरे उसे भी छोड़ देवे।

5. ज्यादा मसाला , तला भुना भोजन न लेवे

6.रात का खाना 7 बजे से पहले ले लेवे , काफी हल्का हो ।

7. भगवान /परमात्मा की याद में बना हुआ खाना ही खाये ,किसी कामी,विकारी के हाथ का जो ब्रह्मचर्य का पालन नही करता है ,बना हुआ न खाए।【most इम्पोर्टेन्ट】

8.हरी सब्जियां खाएं ,सीजन के फल भी।

9.ज्यादा खट्टी चीज़े , ज्यादा मीठा न खाए।

10 . सात्विक भोजन ही ब्रह्मचर्य का आधार है ।

11.मौन में भोजन ग्रहण करे।

12 .मोबाइल ,टीवी देखते हुए भोजन न करे।

13. घर का खाना ही खाये ,बाहर के खाने का त्याग करे।

14. धीरे धीरे चबा कर खाएं【32 बार:आयुर्वेद के अनुसार】

15.भिंडी ,मूंग दाल बहुत सहायक है ।

16. उठते ही 2-3 गिलास पानी पिये【उषापान】

17 . खाने के 1 घंटे बाद पानी पिये।

18 .खाना खुशी और शांति की स्थिति में खाये, गुस्से आदि भावो से नही ।

19. महीने में कम से कम एक दिन उपवास करे।

20.भूख से ज्यादा , अच्छी /मनपसंद चीज मिलने पर ठूस ठूस कर न खाए।

नोट: ये जरूरी नही की आप सभी नियम एक झटके से अपना लेंगे ,समय के साथ धीरे धीरे अपने आपको ढाले , इसे कठिन जानकर हिम्मत न हारे। आपका जीवन हीरा 【Diamond】 बन रहा है ।

और अधिक जानकारी के लिए ⏩ t.me/brahmacharya


Видео недоступно для предпросмотра
Смотреть в Telegram
पुलवामा के शहीदों को शत शत नमन 🙏


Видео недоступно для предпросмотра
Смотреть в Telegram
खोल लो आंखे अब

मत सोए रहो

आगे बढ़ो , लक्ष्य की प्राप्ति में लग जाओ ✔️

ऐसा है आज कल का प्यार 🟢


ज्ञान को वीणा के सुरीले सुर में बजाने वाली ज्ञान वीणा वादनी

सम्पूर्ण पवित्रता को जीवन में धारण करनेवाली स्वेत वस्त्र धारणी

जगत में रहते जगत से न्यारे प्यारे रहनेवाली कमल आसन धारणी

हंस समान मोती चुगने वाली विद्या की देवी मां सरस्वती के यादगार पावन पर्व वसंत पंचमी की कोटि कोटि बधाई


Видео недоступно для предпросмотра
Смотреть в Telegram
प्यार की कड़वी सच्चाई


So keep trying...👍

Показано 20 последних публикаций.