भाटिया आश्रम नोट्स

@bhatiyasharm Нравится 1
Это ваш канал? Подтвердите владение для дополнительных возможностей

suratgarh
Гео и язык канала
Индия, Хинди
Категория
не указана


Гео канала
Индия
Язык канала
Хинди
Категория
не указана
Добавлен в индекс
29.07.2019 18:31
реклама
Telegram Analytics
Подписывайся, чтобы быть в курсе новостей TGStat.
TGStat Bot
Бот для получения статистики каналов не выходя из Telegram
TGAlertsBot
Мониторинг упоминаний ключевых слов в каналах и чатах.
25 139
подписчиков
~22.3k
охват 1 публикации
~10.4k
дневной охват
~3
постов / нед.
88.6%
ERR %
0.06
индекс цитирования
Репосты и упоминания канала
Каналы, которые цитирует @bhatiyasharm
MyGov Corona Newsdesk
JVVNL FUTURE IA
JVVNL FUTURE IA
Utkarsh classes Jodhpur
Utkarsh classes Jodhpur
Последние публикации
Удалённые
С упоминаниями
Репосты
आप सभी को रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ 🙏 भाई-बहन के प्रति अपने कर्तव्य को निभाने की प्रतिज्ञा लें।

#Rakhi #RakshaBandhan #RakshaBandhan2020
प्यारे साथीयो... मैं फिलहाल सेना में कार्यरत हुँ । मैने 2018 RAS का एग्जाम आप सभी के साथ दिया है। एग्जाम के समय में अरुणाचल की दुर्गम पहाड़ियों में तैनात था ,जहां कोई भी नेटवर्क भी उपलब्ध नहीं था. 13 km पैदल चल कर में संडे को इसी ग्रुप से और नेट से कुछ नोट्स डाउनलोड करके पढ़ा करता था क्योंकि 13 कम दूर चलने के बाद कि नेटवर्क उपलब्ध हो पाता था।आप लोगों के द्वारा शेयर किए गए नोट्स ही मेरी तैयारी का एक मात्र जरिया था. मैंने एग्जाम दिया...बहुत अच्छा एग्जाम तो नही हो पाया मेरा लेकिन इससे मेरी ऊर्जा और आत्मविस्वास में बहुत बढ़ोतरी हुई।एग्जाम का रिजल्ट तो नहीं आ पाया अभी तक...मेरी बहुत इच्छा थी कि मैं मेरे देश और समाज के लोगों की सेवा करूँ...


आज रात के अंधेरे में हम देश की सीमाओं पर दुश्मन के सामने मोर्चों पर तैनाती के लिए जा रहे हैं। मैं राजस्थान की मिट्टी से ही बना हुँ ।मेरे प्यारे साथियो भारतीय सेना में हमारे राजस्थान के लोगों की बहुत इज़्ज़त है।उन्हें अग्रीम मोर्चों पर दुश्मन के खिलाफ अद्भुत शौर्य प्रदर्शन के लिए जाना जाता है। मैं भी इस परंपरा को बखूबी निभाउंगा।


प्यारे साथियो...मुझे पता नहीं कि मैं दोबारा आपसे कब मुखातिब हो पाऊंगा। जहां जा रहे हैं वहां नेटवर्क भी नहीं है। हालात क्या होंगे अभी कुछ नहीं पता...लेकिन मैं हर परिस्थिति में मैं अपनी टीम का बेहतरीन नेतृत्व करूँगा। में ये सब आपको इसलिए कह रहा हूँ साथियो कि ... आप सब बहुत मेहनत कर रहे हैं प्रशासनिक सेवा में आने के लिये । निसंदेह आप में से काफी साथी प्रशासनिक अधिकारी भी बनेंगे..लेकिन मेरा आप सभी से आत्मिक निवेदन है कि...
1. अपने क्षेत्राधिकार में आम लोंगो की खूब सेवा करना।
2. आप बहुत सारे जन सामान्य की आशा होंगे कभी काम के दबाव में उन्हें नजर अंदाज नहीं करना।
3. पैसा कमाना आपका उद्देश्य ना हो।
4. अपने आस पास सैनिकों की सेवा और सहायता जरूर करना।
5. आप कभी नहीं समझ सकते कि हम आपसे कितना प्यार करते हैं।अपने गांव ,खेतों,दोस्तों और परिवार को बहुत मिस करते हैं।


अगर वापस ना लौट पाए तो ....


कभी भी हमें खुद से कोई शिकायत नहीं होगी क्योंकि हमें विश्वास होगा कि आप हमारे चाहने वालों,दोस्तों,माता पिताओं और देश और समाज का बेहतर देखभाल करोगे।



यही हमें आपकी और से सच्ची श्रद्धांजलि होगी।


आपका साथी
रविन्द्र यादव
अलवर

Bhatia Ashram ka student
Читать полностью
🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸

बेहद खूबसूरत दिल छू लेने वाली बातें...❤️

मोहन काका डाक विभाग के कर्मचारी थे। बरसों से वे माधोपुर और आस पास के गाँव में चिट्ठियां बांटने का काम करते थे।


एक दिन उन्हें एक चिट्ठी मिली, पता माधोपुर के करीब का ही था लेकिन आज से पहले उन्होंने उस पते पर कोई चिट्ठी नहीं पहुंचाई थी।

रोज की तरह आज भी उन्होंने अपना थैला उठाया और चिट्ठियां बांटने निकला पड़े। सारी चिट्ठियां बांटने के बाद वे उस नए पते की ओर बढ़ने लगे।
दरवाजे पर पहुँच कर उन्होंने आवाज़ दी, "पोस्टमैन!"

अन्दर से किसी लड़की की आवाज़ आई, "काका, वहीं दरवाजे के नीचे से चिट्ठी डाल दीजिये।"

"अजीब लड़की है मैं इतनी दूर से चिट्ठी लेकर आ सकता हूँ और ये महारानी दरवाजे तक भी नहीं निकल सकतीं !", काका ने मन ही मन सोचा।



"बहार आइये! रजिस्ट्री आई है, हस्ताक्षर करने पर ही मिलेगी!", काका खीजते हुए बोले।

"अभी आई।", अन्दर से आवाज़ आई।

काका इंतज़ार करने लगे, पर जब 2 मिनट बाद भी कोई नहीं आयी तो उनके सब्र का बाँध टूटने लगा।

"यही काम नहीं है मेरे पास, जल्दी करिए और भी चिट्ठियां पहुंचानी है", और ऐसा कहकर काका दरवाज़ा पीटने लगे।

कुछ देर बाद दरवाज़ा खुला।

सामने का दृश्य देख कर काका चौंक गए।

एक 12-13 साल की लड़की थी जिसके दोनों पैर कटे हुए थे। उन्हें अपनी अधीरता पर शर्मिंदगी हो रही थी।

लड़की बोली, "क्षमा कीजियेगा मैंने आने में देर लगा दी, बताइए हस्ताक्षर कहाँ करने हैं?"

काका ने हस्ताक्षर कराये और वहां से चले गए।

इस घटना के आठ-दस दिन बाद काका को फिर उसी पते की चिट्ठी मिली। इस बार भी सब जगह चिट्ठियां पहुँचाने के बाद वे उस घर के सामने पहुंचे!

"चिट्ठी आई है, हस्ताक्षर की भी ज़रूरत नहीं है.नीचे से डाल दूँ।", काका बोले।

"नहीं-नहीं, रुकिए मैं अभी आई।", लड़की भीतर से चिल्लाई।

कुछ देर बाद दरवाजा खुला।

लड़की के हाथ में गिफ्ट पैकिंग किया हुआ एक डिब्बा था।

"काका लाइए मेरी चिट्ठी और लीजिये अपना तोहफ़ा।", लड़की मुस्कुराते हुए बोली।

"इसकी क्या ज़रूरत है बेटा", काका संकोचवश उपहार लेते हुए बोले।

लड़की बोली, "बस ऐसे ही काका.आप इसे ले जाइए और घर जा कर ही खोलियेगा!"

काका डिब्बा लेकर घर की और बढ़ चले, उन्हें समझ नहीं आर रहा था कि डिब्बे में क्या होगा!

घर पहुँचते ही उन्होंने डिब्बा खोला, और तोहफ़ा देखते ही उनकी आँखों से आंसू टपकने लगे।

डिब्बे में एक जोड़ी चप्पलें थीं। काका बरसों से नंगे पाँव ही चिट्ठियां बांटा करते थे लेकिन आज तक किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया था।

ये उनके जीवन का सबसे कीमती तोहफ़ा था.काका चप्पलें कलेजे से लगा कर रोने लगे; उनके मन में बार-बार एक ही विचार आ रहा था- बच्ची ने उन्हें चप्पलें तो दे दीं पर वे उसे पैर कहाँ से लाकर देंगे?

दोस्तों, संवेदनशीलता या sensitivity एक बहुत बड़ा मानवीय गुण है। दूसरों के दुखों को महसूस करना और उसे कम करने का प्रयास करना एक महान काम है। जिस बच्ची के खुद के पैर न हों उसकी दूसरों के पैरों के प्रति संवेदनशीलता हमें एक बहुत बड़ा सन्देश देती है। आइये हम भी अपने समाज,अपने आस-पड़ोस, अपने यार-मित्रों-अजनबियों सभी के प्रति संवेदनशील बनें.आइये हम भी किसी के नंगे पाँव की चप्पलें बनें और दुःख से भरी इस दुनिया में कुछ खुशियाँ फैलाएं!

🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸
Читать полностью
प्रेरणादायक पोस्ट 👆

रोशनी को बनाया गया मध्यप्रदेश में महिला एवं बाल विकास विभाग का ब्रांड एंबेसेडर 🌺

आपकों पता है ❓ कौन है रोशनी ❓

रोशनी ने हाल ही में आएं 10 वी बोर्ड के रिजल्ट में टॉप किया है ✅

रोजाना 24 Km साइकिल चलाकर स्कूल जाती थी बिटिया रानी ✅

ये व्यवस्था का रोना रोने वाले के मुंह पर करारा तमाचा है ✅

रोशनी का सपना है IAS बनना 👍
RPSC ने जारी किया RAS मेन-2018 का परिणाम

1051 पदों के लिए जारी हुआ परिणाम, 5 अगस्त,2018 को लिया गया था प्री-एक्जाम, मेन एक्जाम हुए थे 25 व 26 जून 2019 में, प्रदेश के लगभग 18 हजार परीक्षार्थियों ने दी थी परीक्षा.
131C029756D9483EABD75CE5D48CA047.pdf
Attached file
RAS MAINS EXAM RESULT
5_6321265783158604144.pdf
Attached file
प्रिय विद्यार्थियों, वंदे मातरम् , मैंने एक बात नोट की है अतः वह आपसे सांझा करना चाहता हूं l मैं जब भी आप लोगों का परीक्षा परिणाम देखता हूं तो पाता हूं कि लगभग 20% ऐसे बच्चे हैं l जो आश्रम में रजिस्टर्ड तो हैं परंतु वह नियमित रूप से पेपर नहीं देते हैं l कभी छोटा पेपर दिया तो बड़ा पेपर नहीं दिया l कभी बड़ा पेपर दिया छोटा पेपर नहीं दिया l मेरा यह मानना है कि वह प्रतियोगी परीक्षा के मर्म से अपरिचित हैं l यदि किसी कारणवश आप पेपर की तैयारी नहीं भी कर पाए हैं l तो भी आपको पेपर देना है अगर आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करना चाहते हैं l आशा है मेरे इस आग्रह को सभी विद्यार्थी स्वीकार करेंगे और नियमित रूप से पेपर देंगे l
Читать полностью
5_6298284096057507932.pdf
Attached file
राजस्थान के लोक गीत.pdf
Attached file
🌸COVID -19 के लिए योजनाएं🌸


➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖
🔶 कोरोना कबच -- भारत सरकार

🔶ब्रेक द चेन -- केरल

🔶ऑपरेशन शील्ड -- दिल्ली सरकार

🔶नाड़ी एप्प -- पुंदुचेरी

🔶रक्षा सर्व -- छत्तीसगढ़ पुलिस

🔶i GOT -- भारत सरकार

🔶कोरोना केअर-- फोनपे

🔶प्रज्ञम एप्प --- झारखण्ड

🔶कोविडकेअर एप्प -- अरुणाचल प्रदेश

🔶कोरोना सहायता एप्प-- बिहार

🔶आरोग्य सेतु -- भारत सरकार

🔶समाधान -- HRD मिनिस्ट्री

🔶5T --- दिल्ली

🔶कॉरेन्टाइन एप्प -- IIT एप्प

🔶करुणा एप्प--- सिविल सर्विस एसोसिएशन

🔶V-सेफ टनल -- तेलंगाना

🔶लाइफलाइन UDAN-- सिविल एविएशन मिनिस्ट्री

🔶Vera's कोविड 19 मॉनिटरिंग सिस्टम -- तेलंगाना

🔶सेल्फ deceleration एप्प--नागालैंड

🔶ऑपरेशन नमस्ते -- इंडियन आर्मी

🔶कोरोना वाच एप्प -- कर्नाटक

🔶नमस्ते ओवर हैंडशेक-- कर्नाटक

🔶मो जीवन -- ओडिशा

🔶टीम 11-- उत्तर प्रदेश
Читать полностью
प्रिय विद्यार्थियों , आज मैंने आश्रम के यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो प्रेषित किया है l जिसका उद्देश्य है आप के अध्ययन को रोजाना 8 घंटे लाना l नए विद्यार्थियों को यह समझाना की जब भी आप प्रतियोगी परीक्षा के अध्ययन की प्रारंभिक अवस्था में होते हैं तो आपको अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है l कुछ भी समझ में नहीं आता l ऐसे में सबसे उपयुक्त यह है के चलते रहिए , चलते रहिए , चलते रहिए और चलते रहिए l आज आपने कितने घंटे पढ़ाई की है इस बात की सूचना इस वीडियो के कमेंट बॉक्स में तुरंत डाल दीजिएगा इससे आगामी दिनों में आपके अध्ययन अवधि पड़ेगी कॉमेंट बॉक्स में यह भी वादा कर दीजिएगा कि मैं कल 8 घंटे जरूर पढ़ूंगा l
Читать полностью