श्री राजीव दीक्षित जन सेवा संस्था


Гео и язык канала: Индия, Хинди
Категория: Политика



Гео и язык канала
Индия, Хинди
Категория
Политика
Статистика
Фильтр публикаций


*आयुर्वेद में हमारे महऋषियों ने हरड़ को माँ से भी ऊपर रखा है और बोला है कि माँ तो कभी गुस्से में आकर अपने बच्चे पर गुस्सा कर सकती है लेकिन पेट में गई हरड़ कभी भी नुकसान नहीं करती है, यहां तक हरड़ के बारे में बोला गया है कि जिस बच्चे की माँ न हो वो हरड़ को ही अपनी माँ समझे*

हरड़ के मुरब्बे के फायदे
1.नियमित सेवन से चोट या घाव होने पर जल्द आराम मिलता है।
2.यह सूजन को कम करता है।
3.यह भूख न लगने, पेट में कीड़े होने और पाचन संबंधी समस्याओं में राहत दिलाता है।
4.जठरांत्र रोगों, कैंसर(ट्यूमर), बवासीर, मूत्र विकारों और मूत्राशय की पथरी में हरड़ के मुरब्बे का सेवन काफी लाभदायक होता है।

*हरड़ मुरब्बा* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/6758827237510385/919729619647

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

या वटसप करें
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*जेल से बाहर आये जनता सरकार मोर्चा के योद्धाओं ने खोले राज*
*JSM के क्रांतिकारियों का कितना खोप है इन देशद्रोही सरकारों में*

*खाकी वर्दी वालों की गुंड्डागर्दी ....*

*अब आप समझ सकते हो भगत सिंह, राजगुरु, चंद्रशेखर व 1857 के जो लाखों क्रांतिकारी थे उनके साथ क्या-क्या यातनाएं हुई होगी और आज भी वही ईस्ट इंडिया राज, गुंडा राज चल रहा है बस इसी व्यवस्था को बदलना है और यही जनता सरकार मोर्चा का एकमात्र लक्ष्य है*

*इतिहास को दौहरा रहे हैं कुछ गद्दार जो अपनों के रुप में भेड़िये गद्दार हैं*

https://www.facebook.com/share/v/FkicCgqiCbs1ECNP/?mibextid=xfxF2i


*प्रज्ञा प्राकृतिक शहद में तैयार आंवले का मुरब्बा*

https://wa.me/p/9578300048907124/919729619647

आंवला प्रकृति के अनमोल उपहारों में से एक है। इसमें विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते हैं। शायद इसी वजह से इसका उपयोग कई प्रकार से किया जाता है। उन्हीं में से एक है आंवला मुरब्बा। इसे आंवले की तरह ही स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है।

आंवला मुरब्बा के फायदे –
आंवला मुरब्बा के फायदों की बात की जाए, तो यह आयरन का अच्छा स्रोत होने के कारण एनीमिया में लाभदायक होता है। लिवर को स्वस्थ रखना हो या त्वचा और बालों को, यह काफी फायदेमंद होता है। आंवला को हेल्थ टॉनिक भी माना जाता है।

1. आंवला का मुरब्बा शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मददगार होता है। एक शोध में इसके इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण के बारे में पता चला है, जो इम्यून सिस्टम की कार्यप्रणाली को बेहतर करने में मदद करता है। इसके अलावा, यह विटामिन-सी का अच्छा स्रोत है । विटामिन सी के फायदे इम्यून सिस्टम को सुरक्षा प्रदान करने का काम करता है । वैद्यों की मानें तो जिन लोगों को बार बार सर्दी हो जाती है, उन्हें भी आंवले का मुरब्बा अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए।

2. *पाचन क्षमता के लिए आंवला मुरब्बा के लाभ*
पाचन को सुधारने के लिए भी आंवला मुरब्बा फायदेमंद होता हैं। आंवले को फाइबर युक्त खाद्य सामग्री की श्रेणी में रख जाता है, क्योंकि इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है । फाइबर पेट के लिए जरूरी पोषक तत्व माना जाता है, क्योंकि यह पाचन में सुधार करने के साथ-साथ कब्ज जैसी समस्या से भी आराम दिलाने में मदद करता है। वहीं, इसके उपयोग का जिक्र आयुर्वेद और यूनानी चिकित्सा में भी मिलता है। इसका उपयोग पाचन को सुधारने के साथ-साथ लैक्सटिव (पेट साफ करने) के लिए किया जाता है।

3. *स्वस्थ हृदय के लिए आंवला मुरब्बा के फायदे*
आंवला मुरब्बा हृदय रोग से बचाव में मददगार होता है। शोध के अनुसार, आंवले में विटामिन सी और बायोएक्टिव फाइटोकोनस्टिटुएंट्स (Phytoconstituents) मौजूद होते हैं। ये कई प्रकार के रोगों को दूर करने के साथ ही हृदय संबंधी समस्याओं से बचाव में मददगार हो सकते हैं।

4. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए भी आंवले का मुरब्बा फायदेमंद होता है।

5. *आंखों के लिए आंवला मुरब्बा के लाभ*
माना जाता है कि आंवला मुरब्बा आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है। आवंला में कैरोटीन (carotene) पाया जाता है जो कि आँखों के लिए फायदेमंद होता है।

6. *कब्ज की समस्या को दूर करे*
आंवले में मौजूद लैक्सेटिव गुण कब्ज से आराम दिलाने में मददगार होते हैं।

7. *एसिडिटी को कम करने के लिए आंवला मुरब्बा के लाभ*
असंतुलित भोजन, अनियमित दिनचर्या और अपच एसिडिटी का कारण बन सकते हैं। इस परेशानी को कम करने के लिए आंवला और इससे बना मुरब्बा फायदेमंद होता है। शोध के अनुसार आंवला और इससे बने खाद्य पदार्थों का सेवन न सिर्फ पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है, बल्कि यह एसिडिटी को भी दूर करने में फायदेमंद हो सकता है।

*प्रज्ञा आंवले का मुरब्बा प्राप्त करने के लिए लिंक को दबाये*
https://wa.me/p/9578300048907124/919729619647

या वटसप करें
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*प्रज्ञा प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबाये*
https://wa.me/c/919729619647


*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद वटसप ग्रुप से लिंक के माध्यम से जुड़ें*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE

*प्रज्ञा गौ गव्य*
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*


*गर्मी के मौसम में खूूब सेवन करें बेल का मुरब्बा*

https://wa.me/p/5903852236385155/919729619647

*जंगली शहद में तैयार बेल के मुरब्बे के अद्भूत फायदे*

गर्मियों के मौसम में बेल या बेल के जूस का सेवन तो सभी ने किया होगा, लेकिन क्या आपने कभी बेल के मुरब्बे का सेवन किया है। जी हां बेल का मुरब्बा (Bel Ka Murabba), जो कि स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। बेल का मुरब्बा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए बेल के मुरब्बे का सेवन करने से कई बीमारियां भी दूर होती है। बेल के मुरब्बे में प्रोटीन, फॉस्फोरस, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम, बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी और फाइबर जैसे तत्व पाये जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होते हैं

*फायदे*

1- बेल के मुरब्बे में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता मजबूत होती है। जिससे आप कई बीमारियों के शिकार होने से बच सकते हैं।

2- बेल के मुरब्बे का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल का मुरब्बा फाइबर से भरपूर होता है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे पाचन तंत्र (Digestion) बेहतर होता है। साथ ही कब्ज और एसिडिटी जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

3- बेल के मुरब्बे का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) का स्तर नियंत्रित रहता है। क्योंकि बेल का मुरब्बा एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से तो भरपूर होता ही है, साथ ही इसमें फाइबर भी मौजूद होता है, इसलिए अगर आप रोजाना सीमित मात्रा में बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कंट्रोल होता है।

4- गर्मी के मौसम में बेल के मुरब्बे का सेवन करने से शरीर को ठंडक पहुंचती है, साथ ही इसका सेवन आपको लू से भी बचाता है। क्योंकि बेल की तासीर ठंडी होती है।

5- बेल के मुरब्बे का सेवन दिमागी विकास के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल के मुरब्बे का सेवन करने से यादादश्त (Memory) तेज होती है।

6- बेल के मुरब्बे का सेवन आंखों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल के मुरब्बे में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, इसलिए इसका सेवन करने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

7- एनीमिया (Anemia) की शिकायत होने पर बेल के मुरब्बे का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल में आयरन की मात्रा पाई जाती है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे एनीमिया की शिकायत दूर होती है।

*बेल का मुरब्बा प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/p/5903852236385155/919729619647

या वटसप करें

*प्रज्ञा गौ गव्य*
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*वो शरीर को तोड़ सकते हैं, वो क्रांतिकारियों के विचार को नहीं तोड़ सकते*

https://youtu.be/TeIX5_nRY2Y?si=oxOycuN1nIhJ2Fq7


*गर्मी के मौसम में खूूब सेवन करें बेल का मुरब्बा*

https://wa.me/p/5903852236385155/919729619647

*जंगली शहद में तैयार बेल के मुरब्बे के अद्भूत फायदे*

गर्मियों के मौसम में बेल या बेल के जूस का सेवन तो सभी ने किया होगा, लेकिन क्या आपने कभी बेल के मुरब्बे का सेवन किया है। जी हां बेल का मुरब्बा (Bel Ka Murabba), जो कि स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। बेल का मुरब्बा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए बेल के मुरब्बे का सेवन करने से कई बीमारियां भी दूर होती है। बेल के मुरब्बे में प्रोटीन, फॉस्फोरस, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम, बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी और फाइबर जैसे तत्व पाये जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होते हैं

*फायदे*

1- बेल के मुरब्बे में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता मजबूत होती है। जिससे आप कई बीमारियों के शिकार होने से बच सकते हैं।

2- बेल के मुरब्बे का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल का मुरब्बा फाइबर से भरपूर होता है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे पाचन तंत्र (Digestion) बेहतर होता है। साथ ही कब्ज और एसिडिटी जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

3- बेल के मुरब्बे का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) का स्तर नियंत्रित रहता है। क्योंकि बेल का मुरब्बा एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से तो भरपूर होता ही है, साथ ही इसमें फाइबर भी मौजूद होता है, इसलिए अगर आप रोजाना सीमित मात्रा में बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कंट्रोल होता है।

4- गर्मी के मौसम में बेल के मुरब्बे का सेवन करने से शरीर को ठंडक पहुंचती है, साथ ही इसका सेवन आपको लू से भी बचाता है। क्योंकि बेल की तासीर ठंडी होती है।

5- बेल के मुरब्बे का सेवन दिमागी विकास के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल के मुरब्बे का सेवन करने से यादादश्त (Memory) तेज होती है।

6- बेल के मुरब्बे का सेवन आंखों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल के मुरब्बे में विटामिन ए और बीटा कैरोटीन की अच्छी मात्रा पाई जाती है, इसलिए इसका सेवन करने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

7- एनीमिया (Anemia) की शिकायत होने पर बेल के मुरब्बे का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि बेल में आयरन की मात्रा पाई जाती है, इसलिए अगर आप बेल के मुरब्बे का सेवन करते हैं, तो इससे एनीमिया की शिकायत दूर होती है।

*बेल का मुरब्बा प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/p/5903852236385155/919729619647

या वटसप करें

*प्रज्ञा गौ गव्य*
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


https://youtu.be/DC00xaCqPR4?si=4OqEF_zPSoVPDKJL

*महर्षि वाग्भट्ट जी* द्वारा *अष्टांगह्रदयम्* में *गोघृत* को सभी स्नेहद्रव्यों में सबसे श्रेष्ठ, आयु को बड़ाने वाला, सैंकड़ो हजारों चिकित्सा कर्मों में उपयोगी, वीर्य धातु को बड़ाने वाला आदि आदि अनेक गुण बताये हैं, जिसे देखकर आप आज ही घी का सेवन शुरु कर देगे।

*साहिवाल गौमाता का हाथ के बिलौने से तैयार*
*प्रज्ञा गौमाता का घी* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें

https://wa.me/p/6307571856022108/919729619647

या सम्पर्क करें
अमरिंदर गर्ग - 9729619647

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद ग्रुप से जुड़ने के लिए लिंक को दबायें*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*आयुर्वेद में हमारे महऋषियों ने हरड़ को माँ से भी ऊपर रखा है और बोला है कि माँ तो कभी गुस्से में आकर अपने बच्चे पर गुस्सा कर सकती है लेकिन पेट में गई हरड़ कभी भी नुकसान नहीं करती है, यहां तक हरड़ के बारे में बोला गया है कि जिस बच्चे की माँ न हो वो हरड़ को ही अपनी माँ समझे*

हरड़ के मुरब्बे के फायदे
1.नियमित सेवन से चोट या घाव होने पर जल्द आराम मिलता है।
2.यह सूजन को कम करता है।
3.यह भूख न लगने, पेट में कीड़े होने और पाचन संबंधी समस्याओं में राहत दिलाता है।
4.जठरांत्र रोगों, कैंसर(ट्यूमर), बवासीर, मूत्र विकारों और मूत्राशय की पथरी में हरड़ के मुरब्बे का सेवन काफी लाभदायक होता है।

*हरड़ मुरब्बा* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/6758827237510385/919729619647

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

या वटसप करें
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*अंबाला हरियाणा में कब्जा लेने आये बैंक के लोगों को जनता सरकार मोर्चा के योद्धाओं ने खाली हाथ लोटाया*


https://youtu.be/ul7ajNqJF6A?si=LWfv6z-mJSI-RI-b

*ये वीडियो देखकर आपका मन खुश हो जायेगा किस तरह बैंक वाले भागते हैं जब जनता सरकार मोर्चा के योद्धा सामने होेते हैं व उन लोगों को बहुत कुछ सिखने को मिलेगा जो जनता सरकार मोर्चा द्वारा चलाये जा रहे कर्ज मुक्ति अभियान को जानना चाहते हैं या बैंकों के कर्ज से परेशान हो चुके हैं*

*अमरिंदर गर्ग*
*जनता सरकार मोर्चा*
*प्रज्ञा गौ गव्य*
https://wa.me/c/919729619647


*गर्मी के मौसम में खूब सेवन करें देशी गुलाब से तैयार गुलकंद*

https://wa.me/p/6263215853786219/919729619647

*प्राकृतिक शहद* में तैयार *प्रज्ञा गुलकंद* उपलब्ध है

*गुलकंद क्या है?*
गुलकंद का शाब्दिक अर्थ है 'गुल' जिसका अर्थ होता है 'गुलाब' और 'कंद' का अर्थ है 'मीठा'। इसे नियमित रूप से सेवन करने पर मिलने वाले लाभों को देखते हुए इसे आयुर्वेद में सबसे अच्छी औषधियों में से एक के रूप में भी जाना जाता है।

गुलकंद (गुलाब की पंखुड़ियों से तैयार) को कई भारतीय व्यंजनों में एक स्वादिष्टता के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है और इसका शरीर को ठंडक देना (कूलिंग इफेक्ट) जबरदस्त तरीके से काम करता है।

*गुलकंद के फायदे*

1.दर्द दूर करने के लिए गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद दर्द से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। अध्ययन से पता चला है कि क्वेरसेटिन और केम्फेरोल जैसे पौधे के तत्व दर्द को कम करने के लिए कामयाब हो सकते हैं। गुलकंद में मौजूद फ्लेवोनॉयड्स जैसे एंटीऑक्सिडेंट दर्द से राहत देते हैं।

2.दौरे में गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद की गुलाब की पंखुड़ियों में मौजूद एसेंशियल ऑयल और फ्लेवोनॉयड्स दौरे पड़ने की स्थिति में मदद कर सकते हैं। अध्ययन से पता चला है कि गुलकंद मिर्गी के दौरे (मस्तिष्क विकार) क समय को बड़ा सकता है।

3.खांसी में गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद का उपयोग खांसी दूर करने के लिए किया जा सकता है। अध्ययन से पता चला है कि गुलकंद खांसी को कम कर सकता है। एक अन्य अध्ययन से पता चला है कि गुलकंद का आराम देने वाला प्रभाव खांसी से लड़ सकता है।

4.ह्रदय के लिए गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद दिल की कार्यक्षमता में सुधार कर सकता है। गुलकंद हृदय गति और हृदय की सिकुड़न को बढ़ाता है, जिससे हृदय के कार्य में सुधार होता है।

5.एचआईवी संक्रमण के लिए गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद में कई पौधों के कंपाउंड्स मौजूद होते हैं और गुलकंद में कई पौधों के कंपाउंड्स का संयुक्त प्रभाव वायरस रेप्लीकेशन के खिलाफ अतिरिक्त रूप से कार्य कर सकता है। हालांकि, एचआईवी संक्रमण के खिलाफ गुलकंद के प्रभाव की जांच के लिए आगे के अध्ययन की आवश्यकता है।

6.बैक्टीरियल इंफेक्शन के लिए गुलकंद का उपयोग:
गुलकंद अपने ऐसेंसियल ऑयल, रोज एब्यल्सूट और हाइड्रोसोल के कारण बैक्टीरियल इंफेक्शन के खिलाफ कार्य करता है। यह उनके विकास को रोककर बैक्टीरिया की एक विस्तृत श्रृंखला के खिलाफ एंटी-बैक्टीरियल एक्टिविटी दिखाता है।

7.कब्ज में गुलकंद का संभावित उपयोग:-
गुलकंद मल में पानी की मात्रा बढ़ाता है और मल त्याग की फ्रीक्वेंसी बढ़ाता है जिससे गुलकंद कब्ज से राहत दिलाने में मदद करता है।

8.सूजन कम करने के लिए गुलकंद का उपयोग
गुलकंद में विटामिन सी नामक एक एंटीऑक्सीडेंट की उपस्थिति के कारण सूजन को कम करता है। अध्ययनों से पता चला है कि गुलकंद शरीर में सूजन पैदा करने वाले पदार्थों को रोककर सूजन को कम करता है।

*प्रज्ञा गुलकंद* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/6263215853786219/919729619647

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

या वटसप करें
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*क्या हर मौसम में सेेंधा नमक खाना सहीं है ?*

https://youtu.be/T157FK06e5M?si=bBdBjV3ENfSnshLZ

*सेंधा नमक, समुंद्री नमक से बेहतर क्यूं ? - महर्षि वाग्भट्ट जी (अष्टांगहृदयम्)*

*कहीं आप भी सेंधा नमक के नाम ज़हरीला इरानी नमक तो नहीं खा रहे हो ?*

*प्रज्ञा सेंधा नमक* तैयार करने की पूरी प्रक्रिया

*प्रज्ञा सेंधा नमक* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/7021760251255466/919729619647

अन्य *प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/c/919729619647

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद वटसप ग्रुप में जुड़ने के लिए लिंक को दबायें*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*डाॅ. देवेन्द्र बल्हारा जी का जिंदगी बदलने वाला सेमिनार*

https://youtu.be/4VVlzcdSw9s?si=8qh5zCdYSSyREHgF

*इस सेमिनार को देखने के बाद आपका अपने बच्चों को देखने का नजरिया बदल जायेगा*

*क्या बच्चा सारा दिन मोबाइल देखता है?*
*क्या आपका बच्चा बिना फोन के खाना नहीं खाता?*
*आपके बच्चे का पढ़ाई में मन नहीं लगता?*
*आपका बच्चा सारा दिन मोबाइल में गेम खेलता है?*
*आपके बच्चे में चिड़चिड़ापन बड़ रहा है?*

*आदि आदि अनेक प्रश्नों के जबाव आपको इस सेमिनार से मिल जायेगे*

*प्रज्ञा गौ गव्य*
https://wa.me/c/919729619647


वंदे मातरम् साथियो 🚩

https://youtu.be/HR25k4LcPfk?si=cJuQaF_auGBzy4xV

*स्वदेशी चिकित्सा एवं स्वदेशी व्यवस्था* पुस्तक दोबारा प्रकाशित करने के लिए संकल्प व विचारों की एक लंबी लड़ाई स्वयं से लड़नी पड़ी - *अमरिंदर गर्ग*

परमपिता परमात्मा व प्रज्ञा गौमाँ व समस्त गौमाताओं की कृपा व राजीव भाई के आशीर्वाद से लाखों लोगों का जीवन बदलने वाली *राजीव भाई* को समर्पित *स्वदेशी_चिकित्सा_एवं_स्वदेशी_व्यवस्था* नामक पत्रिका को *1 लाख से ज्यादा परिवारों* तक पहुंचाने के बाद नया संस्करण प्रकाशित हो चुका है
*सहयोग_राशि - 20 रुपये*

राजीव भाई की प्रेरणा और मार्ग दर्शन तथा सभी राष्ट्रभक्तों के आशीर्वाद से क्रांतिकारियों के सपनों का भारत बनाने के लिए *श्री राजीव दीक्षित जन सेवा संस्था* द्वारा एक छोटा सा सफल प्रायस किया गया है। जो कि भविष्य में भारतीय समाज की बड़ी उम्मीदों पर खरा उतरेगा। जहां पर बच्चों को मानसिक और शारीरिक रुप से स्वस्थ बनाने तथा उनके सर्वांगीण विकास के लिए शिक्षा-दीक्षा दी जाती है।
हमारा समाज रोग मुक्त एवं स्वस्थ रहे इसके लिए *श्री राजीव दीक्षित जन सेवा संस्था* की तरफ से आयुर्वेद तथा राजीव भाई के व्याख्यानों पर आधारित *स्वदेशी चिकित्सा एवं स्वदेशी व्यवस्था* नामक पुस्तक का नया संस्करण प्रकाशित किया जा रहा है जिसमें कि भारत के नागरिकों और बीमार व्यवस्था को स्वस्थ करने के कुछ सिद्धांत दिये गये है जैसे कि
*स्वदेशी_की_जानकारी*
*इलाज से अच्छा है बीमार ही ना पड़ें,*
*भारतीय देशी गौमाता के बारे में विशेष तथा अद्भूत जानकारियों का संग्रह,*
*भारतीय देशी गौवंश के जगह के हिसाब से चित्र,*
*समाज में फैली ऊंच-नीच तथा जातिवाद का सच,*
*राजीव भाई के_जीवन को प्रस्तुत करती हुई प्रशंसनीय कविता,*
*समाज को सुधारने के लिए हर भारतीय के लिए कुछ जरुरी तथा आसान संकल्प*
दिये गये हैं ....

पुस्तक प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/6752418251518450/919729619647

या सम्पर्क करें :-
*अमरिंदर गर्ग*
*9729619647*

*विशेष :- 25 या 25 से ज्यादा पुस्तकें मंगवानें पर डाक खर्च नहीं लगेगा*

*पुस्तक का पीडीएफ निशुल्क है आप अपने वटसप नम्बर पर मंगवा सकते हैं*

सभी साथी ज्यादा से ज्यादा पोस्ट को सांझा करें और राजीव भाई को समर्पित पुस्तक को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने में सहयोग करें...

*पुस्तक मंगवाकर बांटने वाले साथी पुस्तक के पीछे दिये गये *स्थानीय संपर्क* में अपना मोबाईल नम्बर लिख सकते है...

*वंदे_मातरम्....*
*जय_माँ_भारती.....*
*जय गौमाता*
*राजीव भाई अमर रहें*

*प्रज्ञा गौ गव्य*
*अमरिंदर भारतीय*
*9729619647*


*गलत पढ़ाया गया हमें कि भारत कृषि प्रधान देश है- #डाॅ देवेंद्र बल्हारा असल में तो भारत एक ....*

https://www.facebook.com/share/v/xpHxLvju7C74jMLq/?mibextid=oFDknk




*जनता सरकार मोर्चा* के संस्थापक सदस्य *डाॅ. देवेंद्र बल्हारा जी* से *प्रज्ञा_च्यवनप्राश* पर चर्चा

https://youtu.be/C2rCFlhjREE?si=SDoebwsqUomIL7-Z

**आयुर्वेद में च्यवनप्राश को पित्तशामक बोला गया है क्योंकि इसके प्रधान द्रव्य आंवला, देशी खांड व देशी गौमाता का घी होता है जो तीनों तासीर में ठंडे होने के कारण च्यवनप्राश हर महीने खाया जा सकता है व च्यवनप्राश एक वाजीकरण औषधी है, इसलिए च्यवनप्राश सातों धातुओं को पुष्ठ करने का काम करता है*

*प्रज्ञा च्यवनप्राश आयुर्वेदिक ग्रंथों (अष्टांगहृदयम् , भैष्यजरत्वावली आदि) में वर्णित सर्वलौह की कढ़ाई (लोहे को शुद्ध करके), वैदिक गौघृत, जंगली शहद, ज़हर मुक्त देशी खांड, आंवला, अश्वगंधा, शतावरी, कश्मीरी केसर जैसी 54 से ज्यादा औषधियों द्वारा शास्त्रों में वर्णित शास्त्रीय विधि से तैयार किया जाता है*

*प्रज्ञा च्यवनप्राश प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें* https://wa.me/p/24570071799273580/919729619647

या सम्पर्क करें
*अमरिंदर गर्ग 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद ग्रुप से जुड़ने के लिए लिंक को दबायें*
https://chat.whatsapp.com/K1S4HOQi9jy3RiBBYwsiV9


https://youtu.be/DC00xaCqPR4?si=4OqEF_zPSoVPDKJL

*महर्षि वाग्भट्ट जी* द्वारा *अष्टांगह्रदयम्* में *गोघृत* को सभी स्नेहद्रव्यों में सबसे श्रेष्ठ, आयु को बड़ाने वाला, सैंकड़ो हजारों चिकित्सा कर्मों में उपयोगी, वीर्य धातु को बड़ाने वाला आदि आदि अनेक गुण बताये हैं, जिसे देखकर आप आज ही घी का सेवन शुरु कर देगे।

*साहिवाल गौमाता का हाथ के बिलौने से तैयार*
*प्रज्ञा गौमाता का घी* प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें

https://wa.me/p/6307571856022108/919729619647

या सम्पर्क करें
अमरिंदर गर्ग - 9729619647

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद ग्रुप से जुड़ने के लिए लिंक को दबायें*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE




*प्रज्ञा च्यवनप्राश के सेवन से मिले जैसा लिखा है वैसे परिणाम, अब मंगवाया है 3 किलो और - डी डी पाठक जी (दिल्ली)*

https://youtu.be/d-5ukZrgiXs?si=0equQQcZsEZ1ZJyD

**आयुर्वेद में च्यवनप्राश को पित्तशामक बोला गया है क्योंकि इसके प्रधान द्रव्य आंवला, देशी खांड व देशी गौमाता का घी होता है जो तीनों तासीर में ठंडे होने के कारण च्यवनप्राश हर महीने खाया जा सकता है व च्यवनप्राश एक वाजीकरण औषधी है, इसलिए च्यवनप्राश सातों धातुओं को पुष्ठ करने का काम करता है*

*प्रज्ञा च्यवनप्राश आयुर्वेदिक ग्रंथों (अष्टांगहृदयम् , भैष्यजरत्वावली आदि) में वर्णित सर्वलौह की कढ़ाई (लोहे को शुद्ध करके), वैदिक गौघृत, जंगली शहद, ज़हर मुक्त देशी खांड, आंवला, अश्वगंधा, शतावरी, कश्मीरी केसर जैसी 54 से ज्यादा औषधियों द्वारा शास्त्रों में वर्णित शास्त्रीय विधि से तैयार किया जाता है*

*प्रज्ञा च्यवनप्राश प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें* https://wa.me/p/24570071799273580/919729619647

या सम्पर्क करें
*अमरिंदर गर्ग 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद ग्रुप से जुड़ने के लिए लिंक को दबायें*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE


*बैंकों का फ्राॅड इस सदी का सबसे बड़ा फ्राॅड है जो बैंकों द्वारा किया गया है इसे समझने के लिए यह पुस्तक पढ़नी ही पड़ेगी*

*बैंकों का मायाजाल* पुस्तक प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें
https://wa.me/p/6583892991713717/919729619647

*अन्य प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद प्राप्त करने के लिए लिंक को दबायें*
https://wa.me/c/919729619647

या वटसप करें
*अमरिंदर गर्ग - 9729619647*

*प्रज्ञा गौ गव्य प्राकृतिक उत्पाद समूह से जुड़ने के लिए लिंक को दबाओ*
https://chat.whatsapp.com/GnptayNH5sUEI5Pr373iHE

Показано 20 последних публикаций.